Know Papaya Benefits in Hindi - पपीता खाने के अद्भुत चमत्कारी फायदे हिंदी में

पपीता खाएं, सेहत बनाएं – पपीता खाने के ये लाजवाब फायदे नहीं जानते होंगे आप!

पपीते को ‘द फ्रूट ऑफ द एंजल’ यूं ही नहीं माना गया है। पूरे साल मिलने वाले इस फल में मौजूद विटामिन ए, बी, डी, प्रोटीन, कैल्शियम, लौह जैसे पोषक तत्व होते हैं। इन्हीं गुणों के कारण इसे स्वास्थ्य के लिए सबसे लाभदायक फलों में से एक माना गया है। हवाइयन और मैक्सिकन पपीते दुनिया भर में काफी प्रसिद्ध हैं। इसके अलावा भारतीय पपीते भी अत्यंत स्वादिष्ट होते हैं। अलग-अलग किस्मों के अनुसार इनके स्वाद में थोड़ी बहुत भिन्नता भी होती है। कहते हैं अगर नियमित रूप से पपीता खाया जाए, तो पेट संबंधी तकलीफें नहीं होती। यही नहीं पपीते के पत्‍ते और बीज का भी इस्‍तेमाल औषधि के रूप में किया जाता है। मच्छर के काटने से खुजलाहट हो, तो उस जगह पर पपीते के बीज को रगडें, आराम मिलेगा।

सेहत का सच्चा साथी है पपीता…

विटामिन ए और सी से भरपूर होने के कारण पपीता शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में भी मदद करता है। इसमें मौजदू बीटा-कैरोटीन आंखों की सेहत के लिए फायदेमंद है। इसमें कैल्शियम भी पाया जाता है, जो शरीर की हड्डियां मजबूत करता है और जोड़ों के दर्द में फायदा पहुंचाता है। पपीता खाने से कैंसर का खतरा कम रहता है। इसमें मौजूद फाइबर दिल एवं डायबिटीज के मरीजों के लिए अच्छा माना गया है, जो कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद करता है। डेंगू, पीलिया और अनियमित मासिक धर्म के लिए भी यह फायदेमंद माना गया है। पपीते में कम कैलोरी और अधिक मात्रा में पोषक तत्व होते हैं, जो वजन कम करने में मदद करते हैं। कच्चे पपीते में पपेन नामक एंजाइम पाया जाता है। इस एंजाइम का उपयोग मांस को पकाने में किया जाता है। पाचनतंत्र में गड़बड़ी, कमजोर आंतें, भूख न लगने आदि की समस्या हो, तो पपीता खाना आपके लिए अच्छा रहेगा क्योंकि इसमें मौजूद पपेन एंजाइम पाचन शक्ति को बढ़ाते हैं। इससे कब्ज की समस्या भी दूर होती है। अगर आपको खट्टी डकारें आती हैं, तो पपीते का रस आपके लिए फायदेमंद रहेगा।

Also Read: अजवाइन के 10 चमत्कारी औषधीय गुण व स्वास्थ्य लाभ!

प्रेग्नेंसी में क्यों न खाएं पपीता?

क्‍या प्रेग्नेंसी में पपीता खाना खतरनाक है? इस पर कई रिसर्च आ चुके हैं। कई डॉक्‍टरों का मानना है कि गर्भावस्‍था के दौरान पका हुआ पपीता खाना सेफ है। इसको खाने से पाचन तंत्र भी अच्‍छे से कार्य करता है। ब्रिटिश जरनल ऑफ न्‍यूट्रिशन (British Journal of Nutrition) के अनुसार कच्‍चा पपीता खाना गर्भवती महिलाओं के लिए नुकसानदायक हो सकता है, क्योंकि पपीते के लिसलिसे पदार्थ में पेप्‍सिन पाया जाता है, जो कि गर्भाशय में संकुचन पैदा करता है, जिससे गर्भपात की आशंका रहती है। इसमें मौजूद लेटेक्स से भी कई महिलाओं को एलर्जी होती है। कुछ लोगों का मानना है कि प्रेग्नेंसी के दौरान पपीता खाने से मितली और सुबह की सुस्ती में आराम मिलता है, लेकिन सिर्फ पका पपीता। कच्चा या अधपका पपीता प्रेग्नेंसी के दौरान वर्जित माना गया है। ऐसे में इसको खाने से पहले किसी डॉक्‍टर की सलाह अवश्य लें। पपीते को हमेशा सामान्य तापमान पर ही रखें। फ्रिज में रखने से पहले ब्राउन पेपर में इसे लपेट दें, ताकि यह फ्रेश रहे। अगर लड़कियां अपने बालों को मजबूत और चमकदार बनाना चाहती हैं, तो पपीते के इस मास्क का इस्तेमाल कर सकती हैंः

पपीते का हेयर मास्क बनाने की विधि…

  • पका पपीता 1 कप
  • पका केला 1 कप
  • शीरा 1 बड़ा चम्मच
  • नारियल तेल 1 बड़ा चम्मच
  • दही 1 कप

हेयर मास्क तैयार करने के लिए सभी को एक साथ मिक्सी में पीस लें। इस पेस्ट को बालों में आधे घंटे के लिए लगाएं। मास्क को लगाने के बाद बालों को प्लास्टिक कैप से अच्छी तरह से ढंक दें। इसके बाद इसे धोकर कंडीशनर लगाएं। आपके बाल चमकने लगेंगे।

पपीते से खिल-खिल जाए त्वचा..

तपती गर्मी हो या मॉनसून का महीना, पपीते से हर मौसम में आप अपनी त्वचा को मुलायम रख सकती हैं। यह आपकी त्वचा की टोनिंग करने से साथ उसे नम भी रखता है और त्वचा पर चमक भी लाता है। एंटीऑक्सिडेंट युक्त होने के कारण यह एजिंग की समस्या को रोकने में भी फायदेमंद है। अगर नियमित पके पपीते का पेस्ट चेहरे पर लगाएं, तो एजिंग की समस्या भी नहीं रहती। इसमें मौजूद कुछ खास प्रकार के एंजाइम्स पिंपल्स, डार्क पैचेज आदि को दूर करते हैं। यह त्वचा संक्रमण में भी कारगर है। अगर आप कील-मुंहासों से परेशान हैं, तो कच्चे पपीते के गूदे को शहद में मिलाकर चेहरे पर लगाएं, राहत मिलेगी।

Also Read: लहसुन एक, फायदे अनेक: लहसुन खाने के चमत्कारिक फायदे!

पपीते को आप फटी एड़ियों पर भी लगा सकती हैं। पैरों की त्वचा को निखारना हो, तो आप पके पपीते के छिलके को पीस कर इसका पेस्ट लगा सकती हैं। यदि आपकी त्वचा ड्राई और खुरदुरी है, तो पपीते के साथ शहद मिक्स करके लगाएं। कच्चे पपीते का दूध त्वचा रोग के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसमें ब्लीचिंग एजेंट भी पाया जाता है, जो त्वचा के रंग को निखारता है। विटामिन-ए, पपेन जैसे तत्वों के होने के कारण पपीता मृत त्वचा को हटाने का भी काम करता है। अगर आपकी त्वचा ज्यादा शुष्क और संवेदनशील हो, तो पपीते का यूज चेहरे पर न करें, क्योंकि यह एसिडिक भी होता है। अगर त्वचा में कसाव लाना चाहती हैं, तो पपीते के गूदे में शहद, चावल का आटा मिलाकर मैश करें और इस पेस्ट को चेहरे पर 20 मिनट के लिए लगाएं। इस उपाय को सप्ताह में तीन दिन करें। कच्चा पपीता, शहद, स्पा नमक और ऑलिव ऑयल को मिक्स कर आप इसे स्क्रब के तौर पर भी यूज कर सकती हैं। हो सकता है कि आप में से कुछ लोग ऐसे हों, जो पपीता खाना पसंद न करते हों, लेकिन पपीते के इन पौष्टिक गुणों और फायदों को जानने के बाद निश्चित रूप से आप इसे खाने को लालायित हो उठेंगे !!

Image Courtesy: Pixabay.

Leave your vote

0 points
Upvote Downvote

Comments

0 comments

Reply

Ad Blocker Detected!

Refresh

Log in

Forgot password?

Forgot password?

Enter your account data and we will send you a link to reset your password.

Your password reset link appears to be invalid or expired.

Log in

Privacy Policy