पति-पत्नी और वो - Main Causes of Extramarital Affairs in Hindi

आखिर क्यों बनता है एक नाजायज़ रिश्ता – Top Reasons Why People Cheat

पति और पत्नी का रिश्ता एक अनोखा रिश्ता होता है। संसार को चलाने और समाज को नई दिशा देने में इसके महत्व को कभी अनदेखा नहीं किया जा सकता। पति-पत्नी एक दूसरे के अनुगामी होते हैं। सुख-दुख के साथी होते हैं। मगर यह रिश्ता तभी तक वाजिब है, जब दोनों के बीच विश्वास और प्रेम हो। एक -दूसरे के प्रति समर्पण हो।

जानिए: खाने में पौष्टिकता बनाए रखने के 16 आसान तरीके!

जिस तरह आए दिन अखबारों या चैनलों पर नाजायज सम्बन्धों की खबरें पढ़ने या देखने को मिलती हैं, उस पर मन में कई सवाल घुमड़ उठते हैं। आखिर क्यों ऐसे रिश्तों के लिए महिला/पुरुष अग्रसरित होते हैं? आखिर क्या वजह है कि वे बाहर अपनी खुशी की तलाश करते हैं? जहां एक तरफ कुछ लोग इस तरह की घटनाओं के लिए टीवी सीरियल्स को दोषी मानते हैं, वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग इसके लिए समाज में बढ़ती पश्चिमी सभ्यता को या फिर नारी की स्वतंत्रता को दोषी ठहराते हैं, लेकिन कोई भी उसकी तह तक जाने की कोशिश नहीं करता है।

इतने पढ़े लिखे और समझदार होने के बावजूद लोग ऐसे कदम क्यों उठा लेते हैं, जहां बदनामी और बर्बादी के अलावा कुछ हासिल नहीं होता? वैसे नाजायज रिश्तों के कई कारण हो सकते हैं लेकिन उनमें सबसे अहम कारण होता है, एक दूसरे की इच्छाओं और जरूरतों को न समझ पाना और उन्हें पूरा न करना। पहले की नारी और आज की नारी में बहुत फर्क है। पहले की स्त्रियों के लिए सिर्फ पति की इच्छा और जरूरतें ही सर्वोपरि होती थीं, लेकिन आज की स्त्रियां अपनी इच्छाओं और जरूरतों के लिए जागरूक हैं। आज जहां पति अपनी पत्नी से बहुत-सी उम्मीदें और अपेक्षाएं रखता है, वहीं पत्नी भी अपने पति से बहुत कुछ चाहती है। और ये गलत भी नहीं है, क्योंकि उनका वैवाहिक जीवन इसी सुख पर निर्भर है। दांपत्य जीवन को सुखमय बनाने के लिए पति-पत्नी को एक-दूसरे की खुशियों का ध्यान तो रखना ही पड़ेगा।

पढ़ें: हैंडराइटिंग से जानिए कैसी है किसी व्यक्ति की Personality!

जब ये जरूरतें घर में पूरी नहीं होती, तो लोग बाहर अपनी खुशियां तलाशने लगते हैं। जब उनकी जरूरतें और ख्वाहिशें कहीं बाहर से पूरी होती हैं, तो वे घर से विमुख होने लगते हैं। और यहीं से शुरू होता है एक नाजायज रिश्ता। अपनी खुशियों को पाने के लिए वे इतने स्वार्थी और अंधे हो जाते हैं कि उन्हें अपना घर, अपने बच्चे, अपना समाज कुछ दिखाई नहीं देता और वो एक ऐसा कदम उठा लेते हैं कि जहां से लौटने का कोई रास्ता भी नहीं बचता। नाजायज रिश्ते न बनें, इसके लिए जरूरी है कि पति-पत्नी एक-दूसरे की जरूरतों, इच्छाओं और खुशियों को जानें और उन्हें पूरा करने की कोशिश करें। ताकि भावी पीढ़ी एक स्वस्थ, स्वच्छ और सुरक्षित माहौल में कदम रख सके।

इस पोस्ट के सम्बन्ध में आपके क्या विचार हैं, नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स के माध्यम से हमें बताएं। यदि आप हमारी नयी पोस्ट सीधे अपने ई-मेल इनबॉक्स में प्राप्त करना चाहते हैं, तो कृपया SUBSCRIBE करें।

Image: lozo.

Leave your vote

-1 points
Upvote Downvote

Comments

0 comments

Tags:

One Response

  1. Lokesh sharma

Reply

Ad Blocker Detected!

Refresh

Log in

Forgot password?

Forgot password?

Enter your account data and we will send you a link to reset your password.

Your password reset link appears to be invalid or expired.

Log in

Privacy Policy